तिरुपुर में तीन ट्रकों से 570 करोड़ रुपये जब्त, अब तक 9.06 करोड़ कैश और 153 किलो सोना जब्त

तिरुपुर में तीन ट्रकों से 570 करोड़ रुपये जब्त, अब तक 9.06 करोड़ कैश और 153 किलो सोना जब्त

कोयंबटूर: लोकसभा चुनाव के दौरान देश के अलग-अलग इलाकों से कैश जब्त किए जाने के मामले सामने आ रहे हैं। लेकिन तमिलनाडु में पुलिस को उस वक्त लाठीचार्ज के लिए मजबूर होना पड़ा, जब बेकाबू भीड़ ने एक ट्रक को घेर लिया। दरअसल पुलिस को जानकारी मिली थी कि इस ट्रक के जरिए काफी मात्रा में कैश ले जाया जा रहा है। कोयंबटूर के अथुपलम इलाके में पुलिस ने जब कंटेनर को रोककर तलाशी ली तो मामला कुछ और ही निकला। 

सोमवार रात 10.30 बजे कुछ लोगों ने अथुपलम टोल प्लाजा पर तेज रफ्तार से जा रहे एक ट्रक को रोक लिया था। ट्रक का ड्राइवर उसमें लदे सामान के बारे में साफ-साफ कुछ नहीं बता पा रहा था। इसके बाद लोगों को शक हो गया और अफवाह उड़ी कि कंटनेर में कैश जा रहा है। कुछ लोगों ने 2016 के विधानसभा चुनाव का जिक्र करते हुए दलील दी कि पड़ोसी तिरुपुर में तीन ट्रकों से 570 करोड़ रुपये जब्त हुए थे। धीरे-धीरे लोगों की वहां भीड़ बढ़ती गई और रोड पर जाम लग गया। 

डीसीपी और चुनाव आयोग की टीम ने की जांच
डेप्युटी कमिश्नर ऑफ पुलिस एल बालाजी सर्वनन की अगुआई में पुलिस टीम चुनाव आयोग के फ्लाइंग स्क्वॉड के अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंची। पुलिस ने ट्रक ड्राइवर से पूछताछ शुरू की। ड्राइवर प्रकाश ने अधिकारियों को बताया कि कंटेनर में 16 टन चाय के पैकेट (टी बैग) लदे हुए हैं। लेकिन भीड़ उसकी एक सुनने को तैयार नहीं थी। उग्र लोगों ने कहा कि वे ट्रक को तब तक नहीं जाने देंगे जब तक ट्रक में लदे सामान को जनता के बीच सार्वजनिक नहीं किया जाता। पुलिस ने लोगों को वहां से हटने की सलाह दी लेकिन कोई जाने को राजी नहीं हुआ। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर लोगों को वहां से खदेड़ा। 

दो बार ट्रक में लदे माल की हुई जांच
इसके बाद ट्रक को कलेक्ट्रेट पर ले जाया गया। तहसीलदार और चुनाव अधिकारियों की मौजूदगी में इसे खोला गया। पुलिस ने कुछ पार्टियों के पदाधिकारियों और जनता के बीच से कुछ लोगों को टी बैग का बंडल चेक करने की इजाजत दी। इसके बाद ही कंटेनर को दोबारा लॉक करके सील लगाई गई। यही नहीं मंगलवार दोपहर इसे कलेक्टर के राजामणि की मौजूदगी में खोला गया। चुनाव अधिकारियों ने सभी बंडल की जांच की और यह सुनिश्चित किया कि कोई गड़बड़ी नहीं हुई है। 

30 लाख के टी बैग जर्मनी जा रहे थे
ट्रक से माल भेजने वाले शाह ब्रदर्स के डायरेक्टर हेमेन शाह ने हमारे सहयोगी टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि 30 लाख रुपये की टी बैग कोच्चि बंदरगाह जा रहे थे। उन्होंने बताया, 'मैंने खरीदार से वादा किया था कि मंगलवार सुबह तक माल से लदा ट्रक कोच्चि बंदरगाह पहुंच जाएगा। अगर मैं समय से माल को जर्मनी नहीं भेज पाता तो मुझे काफी नुकसान उठाना पड़ता।' 

कोयंबटूर में अब तक 9 करोड़ कैश जब्त
इस बीच कलेक्टर का कहना है कि चुनाव अधिकारियों ने जिले से अब तक 9.06 करोड़ कैश और 153 किलो सोना जब्त किया है। उन्होंने बताया, 'हमने दस्तावेजों की जांच करने के बाद 2.75 करोड़ रुपये और 1 किलोग्राम सोना वापस कर चुके हैं। टी बैग वाले कंटेनर की जीएसटी, कस्टम और आयकर अधिकारियों की मौजूदगी में जांच की गई। मैंने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि जनता को अनावश्क रूप से न परेशान किया जाए।'