बिहार में बरसे PM, '23 मई के बाद टुकड़े-टुकड़े होकर बिखर जाएगा टुकड़े-टुकड़े गैंग'

बिहार में बरसे PM, '23 मई के बाद टुकड़े-टुकड़े होकर बिखर जाएगा टुकड़े-टुकड़े गैंग'

भागलपुर: लोकसभा चुनाव के लिए गुरुवार को बिहार के भागलपुर में एक चुनावी रैली में पीएम नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान के साथ कांग्रेस पर भी तीखा हमला बोला। इस दौरान पीएम ने यह भी दावा किया कि 23 मई को देश में मोदी की सरकार दोबारा बननी तय है। इस दौरान पीएम ने वादा किया कि उनकी सरकार नक्सलवाद और आतंकवाद से कोई समझौता नहीं करेगी। पीएम ने कहा कि उन्होंने नक्सलवाद और आतंकवाद से निपटने के लिए सुरक्षाबलों को खुली छूट दे दी है। इस दौरान विपक्ष को घेरते हुए पीएम ने कहा कि मोदी सरकार दोबारा आई तो टुकड़े-टुकड़े गैंग टुकड़े- टुकड़े होकर बिखर जाएगा। 

भागलपुर में चुनावी रैली में कांग्रेस सहित विपक्षी पार्टियों पर हमला बोलते हुए पीएम ने कहा, ये महामिलावटी लोग देश में भ्रष्टाचार बढ़ाना चाहते हैं। ये हमारे जवानों को निहत्था और असहाय बनाना चाहते हैं। पीएम ने कहा, 'ये महामिलावटी नेता डर फैला रहे हैं कि अगर इस बार फिर मोदी आ गया तो देश में चुनाव ही खत्म हो जाएगा। ये यह भी डर फैला रहे हैं कि मोदी फिर सत्ता में आ गया तो संवैधानिक संस्थाएं खत्म हो जाएंगी। दरअसल, इसलिए ये इसलिए इस भ्रम को फैला रहे हैं क्योंकि इन्हें डर है कि मोदी फिर आएगा तो इनकी भ्रष्टाचार की दुकानें पूरी तरह बंद हो जाएंगी। इनकी वंशवादी राजनीति के दिन लद जाएंगे। रक्षा सौदों की दलाली बंद हो जाएगी। पर, मैं इन्हें ऐसा करने नहीं दूंगा।'

'अब कोई पाक को घास नहीं डाल रहा'
आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई का मुद्दा उठाते हुए पीएम ने कहा, 2014 के पहले का भारत याद कीजिए। तब पाकिस्तान आतंकियों को भेजता था और बाद में धमकी भी देता था। कांग्रेस की सरकार सिर्फ कागजी कार्रवाई तक सीमित रह जाती थी। पर, हमने उनके घर में घुसकर मारा। आज स्थिति यह है कि पाकिस्तान दुनिया भर में घूमकर रोना रो रहा है लेकिन उसे कोई घास तक नहीं डाल रहा। 

'देश के जवानों के साथ या आतंकियों के साथ'
पीएम ने कांग्रेस को घेरते हुए कहा, एक तरफ हम हम कह रहे हैं जम्मू-कश्मीर में भी आतंक के अड्डों का पता लगा देंगे। पाक से पैसा लेने वाले को जेल में डालेंगे। उधर, कांग्रेस और उसके साथी कह रहे हैं कि आतंकवाद पर पाक से बात की जाएगी। जो पाक से पैसा लेते हैं उन पर कोई भरोसा कर सकता है क्या । दरअसल, ये खुद डरे हुए हैं। अविश्वास से गिरे हुए हैं। इस देश को उनसे अब सीधा जवाब चाहिए कि वे देश के जवानों के साथ हैं या आतंकियों के साथ हैं। 

'नामुमकिन को मुमकिन कर दिखाया'
इस दौरान पीएम ने केंद्र की योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि पिछले 70 सालों में जो चीजें नामुमकिन थीं, हमने उन सबको मुमकिन कर दिखाया है। पीएम ने कहा, आज मैं जो कुछ भी कर पाया हूं वह सिर्फ आपके आशीर्वाद और सहयोग से संभव हुआ है। देश को मजबूत करने और नई ऊंचाइयों तक ले जाने के लिए आगे भी आपके सहयोग और आशीर्वाद की जरूरत है।