'इमरान ख़ान अपने मुल्क की चिंता करें': नसीरुद्दीन शाह

'इमरान ख़ान अपने मुल्क की चिंता करें': नसीरुद्दीन शाह

शनिवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने लाहौर के एक सावर्जनिक कार्यक्रम में बोलते हुए नसीरुद्दीन शाह के बयान पर भारत को निशाने पर लिया.

नसीर ने कहा था कि उन्हें अपनी औलाद को लेकर चिंता होती है कि कोई उनसे ये न पूछ दे कि हिन्दू हो या मुसलमान. नसीर भारत में बढ़ रही उस भीड़ की ओर इशारा कर रहे थे जो हाल के दिनों में क़ानून-व्यवस्था अपने हाथों में ले ले रही है.

इमरान ख़ान ने नसीर की चिंता पर कहा कि जिन्ना ने ठीक ही कहा था कि वो भारत में नहीं रहना चाहते हैं क्योंकि मुसलमानों को बराबर का अधिकार नहीं मिलेगा.

इमरान ख़ान की इस टिप्पणी पर नसीरुद्दीन शाह ने कड़ी प्रतिक्रिया जताते हुए इंडियन एक्सप्रेस अख़बार से कहा, ''इस मुद्दे पर टिप्पणी करने के बजाय इमरान ख़ान को अपने मुल्क पर ध्यान देना चाहिए. हमारे देश में 70 सालों से लोकतंत्र है और हमें पता है कि इन मुद्दों को कैसे सुलझाना है.''