टेरर फंडिंग केस: NIA ने JKLF प्रमुख यसिन मलिक को गिरफ्तार किया, पहुंचा तिहाड जेल

टेरर फंडिंग केस: NIA ने JKLF प्रमुख यसिन मलिक को गिरफ्तार किया, पहुंचा तिहाड जेल

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने बुधवार को जेकेएलएफ प्रमुख यासिन मलिक (Yasin Malik) को गिरफ्तार (Arrest) कर लिया है। यासिन को टेरर फंडिंग मामले (Terror Funding Case) में गिरफ्तार किया गया है। अधिकारी ने कहा, यासिन मलिक को मंगलवार शाम को दिल्ली लाया गया था। 

वहीं, इससे पहले फरवरी में कई हिंसक कृत्यों और 1988 से आतंकवाद प्रभावित राज्य में अलगाववादी गतिविधियों को बढ़ावा देने के आरोपों के कारण यासिन मलिक नीत जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलफ) पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। उसकी विध्वंसक और हिंसक गतिविधियों को सूचीबद्ध करते हुए केंद्रीय गृह सचिव राजीव गौबा ने कहा था कि जेकेएलएफ ने कश्मीर घाटी में अलगाववादी विचारधारा को बढ़ावा दिया और आतंकवाद को कतई बर्दाश्त नहीं करने की केंद्र सरकार की नीति के तहत यह कार्रवाई की गई है।

संवाददाता सम्मेलन में उन्होंने कहा कि जेकेएलएफ के खिलाफ कई गंभीर मामले दर्ज हैं। यह संगठन तत्कालीन वी पी सिंह सरकार में गृह मंत्री रहे मुफ्ती मोहम्मद सईद की बेटी रूबिया सईद के अपहरण और वायु सेना के चार कर्मियों की हत्या के लिए जिम्मेदार है।