मध्य प्रदेश मुख्या मंत्री कमलनाथ के नजदीकी सहयोगियों के पास से मिले ९ करोड़ से ज्यादा कैश: आयकर विभाग

मध्य प्रदेश मुख्या मंत्री कमलनाथ के नजदीकी सहयोगियों के पास से मिले ९ करोड़ से ज्यादा कैश: आयकर विभाग

मुख्यमंत्री कमलनाथ के OSD प्रवीण कक्कर के ठिकानों पर आयकर विभाग का रेड, भोपाल में स्थित  प्लेटीनम प्लाजा मॉल में आयकर विभाग आज ३ बजे से अपनी करवाई कर रहा है जिसमे अब तक ९ करोड़ कैश मिले हैं जिसका संभावित उपयोग चुनाव में आवंटित करने का भी हो सकता है. 

भोपाल के प्लेटिनम प्लाजा में स्थित अश्विन के घर पर सीआरपीएफ के साथ आयकर विभाग की टीम छापेमारी करने पहुंची थी। इस दौरान वहां मध्य प्रदेश पुलिस के अधिकारी भी पहुंच गए और बिल्डिंग के अंदर जाने की कोशिश करने लगे लेकिन सीआरपीएफ अधिकारियों ने उन्हें रोक दिया। हालांकि पुलिस का कहना है कि उन्हें आयकर विभाग की रेड से कोई लेना-देना नहीं है।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के निजी सचिव प्रवीण कक्कड़ के करीबी कारोबारी अश्विन शर्मा के घर पर आयकर विभाग की रेड के दौरान बिल्डिंग के बाहर सीआरपीएफ के जवानों और मध्य प्रदेश पुलिस में टकराव की स्थिति उत्पन्न हो गई। सीआरपीएफ अधिकारियों का कहना है कि सूबे की पुलिस उनके काम में रुकावट डाल रही है।

भोपाल के प्लेटिनम प्लाजा में स्थित अश्विन के घर पर सीआरपीएफ के साथ आयकर विभाग की टीम छापेमारी करने पहुंची थी। इस दौरान वहां मध्य प्रदेश पुलिस के अधिकारी भी पहुंच गए और बिल्डिंग के अंदर जाने की कोशिश करने लगे लेकिन सीआरपीएफ अधिकारियों ने उन्हें रोक दिया। हालांकि पुलिस का कहना है कि उन्हें आयकर विभाग की रेड से कोई लेना-देना नहीं है। भोपाल के एसपी सिटी भूपिंदर सिंह ने कहा, 'हमें आयकर विभाग की रेड से कोई लेना-देना नहीं है, यह एक आवासीय बिल्डिंग है, अंदर कुछ लोग बीमार हैं और उन्होंने ही स्थानीय एसएचओ को फोन करके मदद के लिए यहां बुलाया है। रेड से पहले सीआरपीएफ ने पूरी बिल्डिंग को बंद कर दिया था।' 

वहीं दूसरी ओर सीआरपीएफ के अधिकारी प्रदीप कुमार ने कहा, 'मध्य प्रदेश पुलिस हमें अपना काम नहीं करने दे रही है। पुलिस के अधिकारी हमें गालियां दे रहे हैं। हम सिर्फ अपने सीनियर अधिकारियों के आदेश का पालन कर रहे हैं। कार्रवाई जारी है, इसलिए हम किसी को भी अंदर नहीं जाने दे रहे हैं। हम सिर्फ अपनी ड्यूटी कर रहे हैं।' 

बता दें कि आयकर विभाग ने बड़े स्तर पर कार्रवाई करते हुए मध्य प्रदेश, गोवा और दिल्ली में करीब 50 जगहों पर छापेमारी की है जिसमें 300 अधिकारी जुटे हैं। इन्हीं में से एक मुख्यमंत्री कमलनाथ के ओएसडी प्रवीण ककक्ड़ भी हैं जिनके इंदौर और भोपाल स्थित घर और दफ्तर में भी छापा मारा गया है। कमलनाथ के एक और नजदीकी आरके मिगलानी के नई दिल्ली के ग्रीन पार्क स्थित घर पर भी आयकर विभाग ने छापा मारा है। 

कक्कड़ के निवास के अलावा रतुल पुरी, अमीरा ग्रुप और मोजर बेर पर भी छापे मारे गए हैं। भोपाल में प्रतीक जोशी के घर से बड़ी मात्रा में कैश भी बरामद किया गया है। इंदौर के साथ ही भोपाल, गोवा और दिल्ली में 50 जगहों पर छापेमारी की गई है।

१९:२६ : पैसे हवाला से मूव कर रहा था. CRPF और मध्य प्रदेश पुलिस के बीच धक्का मुक्की , पुलिस अंदर जाने के लिए परेशान

१९:२८ : पुलिस का कहना है कि अन्दर माल में लोग रोके गए है जिसमे से कुछ लोग की तबियत खराब है.

१९:२९ : आया कर वभाग ने ५० जगह की है छापेमारी, प्रवीण कक्कर के घर से ९ करोड़ रुपये बरामद. १५ अधिकारीयों की टीम ने किया रेड. राजेन्द्र कुमार मिगलानी के घर पर भी छापेमारी सुबह ३ बजे से चालु, मिग्लनी कमलनाथ के साथ चुनावी दौरे पर थे. कमलनाथ मिडिया के सवालों का बिना जवाब देते हुए चले गए. 

१९:३३ : कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने प्रधानमंत्री मोदी पर सरकारी तंत्रों  दुरूपयोग का आरो लगाया.