500 सालों तक मुस्लिमों ने राज किया और हिन्दू धर्म खतरे में नहीं आया : दिग्विजय

500 सालों तक मुस्लिमों ने राज किया और हिन्दू धर्म खतरे में नहीं आया : दिग्विजय

भोपाल : कांग्रेस के बडबोले नेता और भोपाल लोकसभा सीट से पार्टी के प्रत्याशी दिग्विजय सिंह ने विपक्षी उम्मीदवार और बीजेपी कैंडिडेट साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर पर निशाना साधा है। दिग्विजय ने तंज कसते हुए कहा कि अगर साध्वी प्रज्ञा ने जैश-ए-मोहम्मद के सरगना आतंकवादी मसूद अजहर को भी श्राप दिया होता, तो फिर सेना को किसी तरह की सर्जिकल स्ट्राइक की जरूरत ही नहीं पड़ती। 

वैसे यह याद दिलाना आवश्यक है कि कांग्रेस के ज्यादातर नेताओं में हिन्दू धर्म के प्रति आस्था न के बराबर है और भगवान राम को भी काल्पनिक साबित करने के लिए कोर्ट में हलफनामा दायर करते है। 

भोपाल में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा, 'प्रज्ञा ठाकुर ने कहा था कि उन्होंने आतंकी हमले में शहीद हुए एटीएस चीफ हेमंत करकरे को सर्वनाश होने का श्राप दिया था। ऐसे ही अगर ठाकुर ने आतंकवादी मसूद अजहर को भी श्राप दे दिया होता तो फिर किसी सर्जिकल स्ट्राइक की जरूरत ही नहीं पड़ती।' गौरतलब है कि मालेगांव ब्लास्ट की आरोपी साध्वी ठाकुर ने कहा था कि उन्होंने हेमंत करकरे का सर्वनाश होने की बात कही थी। 

प्रज्ञा से तुलना पर बोलीं उमा भारती, 'वह महान संत, मैं बेवकूफ प्राणी'

'डर गई है बीजेपी'
दिग्विजय ने कहा कि भोपाल से चुनाव मैदान में उतरने से बीजेपी खेमा डर गया। उन्होंने कहा, 'मामा (शिवराज सिंह चौहान) डर गए, जब मुझे भोपाल से कांग्रेस प्रत्याशी बनाया। उमा भारती ने भी लड़ने से मना कर दिया। बाबू लाल गौर ने कहा कि वह बीमार चल रहे हैं। नामांकन की आखिरी तारीख से पहले बीजेपी ने प्रज्ञा सिंह ठाकुर को टिकट दिया।' 

दिग्विजय सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर भी जमकर निशाना साधा। कांग्रेस नेता ने कहा, 'पीएम कहते हैं कि वह पाताल से भी ढूंढकर आतंकवादियों को मारेंगे। मैं पूछना चाहता हूं कि पुलवामा, पठानकोट और उरी हमलों के वक्त वह कहां पर थे? क्यों आतंकवादी हमलों का अंत नहीं हो रहा है।' 

'धर्म को बेचने वालों से सावधान रहने की जरूरत'
दिग्विजय ने कहा, 'बीजेपी कहती है कि देश का हिंदू खतरे में है। मैं बताना चाहता हूं कि देश पर 500 सालों तक मुस्लिमों ने राज किया और कोई धर्म खतरे में नहीं आया। धर्म को बेचने वालों से सावधान रहने की जरूरत है। हम हिंदू धर्म में हर-हर महादेव का नारा लगाते हैं, लेकिन बीजेपी ने हर-हर मोदी कहकर हमारी धार्मिक भावनाओं को आहत किया है। हम सबको पता है कि गूगल पर फेकू टाइप करने पर किसकी तस्वीर नजर आती है।'