नीति आयोग के वाइस चेयरमैन की NYAY योजना पर टिप्पणी पर EC ने मांगा जवाब

नीति आयोग के वाइस चेयरमैन की NYAY योजना पर टिप्पणी पर EC ने मांगा जवाब

नई दिल्ली : नीति आयोग के वाइस चेयरमैन राजीव कुमार को चुनाव आयोग ने कांग्रेस के न्यूनतम आय योजना पर बयान जारी करने के लिए नोटिस जारी किया है। कुमार ने कल कई ट्वीट कर कांग्रेस की गरीब न्याय योजना को चुनावी जुमला बताते हुए इसे खजाने के लिए बड़ा बोझ बताया था। आयोग ने पद पर रहते हुए राजनीतिक पार्टी के वादे की आलोचना को आचार संहिता का उल्लंघन मानते हुए नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा है। 

बता दें कि मंगलवार को कांग्रेस के न्याय स्कीम की आलोचना करते हुए राजीव कुमार ने ट्वीट किए थे। कुमार ने लिखा था, '5 करोड़ गरीब परिवारों को न्यूनतम आय गारंटी के तहत सालाना 72,000 रुपये देने के वादे से राजकोषीय अनुशासन धाराशयी हो जाएगा। इस योजना से एक तरह से काम नहीं करने वालों को प्रोत्साहन मिलेगा।' सोशल मीडिया पर किए इस ट्वीट के बाद कई यूजर्स ने भी इसे राजनीतिक टिप्पणी मानकर आलोचना की थी। 
 
आयोग ने राजीव कुमार को जारी नोटिस में कहा है कि पद पर रहते हुए नौकरशाहों को राजनीतिक पार्टियों से संबंधित बयान जारी करना आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है। राजीव कुमार ने कांग्रेस की भी आलोचना करते हुए ट्वीट किया था, ‘कांग्रेस के पुराने रेकॉर्ड को देखा जाए तो वह चुनाव जतीने के लिये चांद लाने जैसे वादें करती रही है। कांग्रेस अध्यक्ष ने जिस योजना की घोषणा की है उससे राजकोषीय अनुशासन खत्म होगा, काम नहीं करने को लेकर एक प्रोत्साहन बनेगा और यह कभी क्रियान्वित नहीं होगा।'

राजीव कुमार की नियुक्ति को भी लेकर राजनीतिक विरोध हुआ था। इससे पहले हा मैं चौकीदार हूं कविता ट्विटर पर शेयर करने के कारण कुछ सोशल मीडिया यूजर्स ने उनकी मंशा पर सवाल उठाए थे।